हिन्दी प्रश्नमंच

शब्दम् उपाध्यक्ष नंदलाल पाठक ने प्रश्नमंच की व्याख्या इस तरह से की है-

भारतीय परम्परा में वादे-वादे जायते तत्वबोध की व्यापक स्वीकृति है। यह वैज्ञानिक भी है, क्योंकि चर्चा, बात-चीत, सम्वाद, वार्तालाप और प्रश्नोत्तर, यही मार्ग है वक्ता और श्रोता के बीच पुल बनाने का।

विश्व साहित्य को भारत की सर्वोत्तम देन उपनिषद साहित्य है और उपनिषद का पूरा स्वरूप प्रश्नोत्तर पर आधारित है। उपनिषद का अर्थ है, गुरू के निकट शिष्य का बैठना, प्रश्न करना, उत्तर सुनना, अपनी खोज को संतुष्ट करना। यह बहुत वैज्ञानिक तरीका है।

यूनान में यह बहुत व्यापक रहा। यूनानी ‘डायलाग’विश्वप्रसिद्ध है। चीन में भी शिक्षा में प्रश्नोत्तर को बहुत महत्व मिला है।

तिब्बत की पुरानी शिक्षा पद्धति में परीक्षार्थी की प्रश्न पूछने की शक्ति की परीक्षा ली जाती है। परीक्षार्थी एक बोर्ड के सामने उपस्थित होता है। वाद, संवाद, प्रतिवाद सब प्रस्तुत करता है और बोर्ड के सदस्य उसकी सामर्थ्य पर उसे अंक देते हैं।

मन से मन तक पुल बनाने का सर्वोत्तम साधन प्रश्न और उत्तर है । जिस मन में प्रश्न नहीं उठते, वह ऊसर है।

भारत का महान ग्रन्थ भगवत गीता-श्रीमद्भागवत प्रश्नोत्तर ही तो है।

‘शब्दम्’प्रश्नमंच प्रतिवर्ष की भांति आज जनपद के छोटे-बड़े विद्यालयों तक पहुंच गया है। देशभक्ति, प्रकृति एवं सांस्कृतिक, भारतीय त्योहार-उत्सव, हिन्दी भाषा, साहित्य-व्याकरण, रामायण, गीता, महाभारत आदि पर आधारित प्रश्न इस प्रश्नमंच कार्यक्रम का आधार है ।

प्रश्नमंच कार्यक्रम के उद्देश्य

शब्दम् द्वारा अभी तक लगभग 170 विद्यालय-महाविद्यालयों के 85 हजार छात्र-छात्राओं के मध्य प्रश्नमंच कार्यक्रम आयोजित किया जा चुका है।

वर्ष 2014-15 में भाग लेने वाले महाविद्यालयों/विद्यालयों के नाम इसप्रकार हैं।

विद्यालय

यंग स्कालर्स एकेडमी, शिकोहाबाद
ज्ञानदीप सीनि सेकेण्डरी स्कूल, शिकोहाबाद
मधुमाहेश्वरी कन्या विद्यालय, शिकोहाबाद
राजकान्वेन्ट पब्लिक स्कूल, शिकोहाबाद
ठा- तारा सिंह इण्टर कालेज, शिकोहाबाद
बी-डी-एम-इण्टर कालेज, शिकोहाबाद
प्रह्लादराय टीकमानी सरस्वती विद्या मन्दिर, शिकाहाबाद
ज्ञान ज्योति पब्लिक स्कूल, शिकोहाबाद
पुरातन सरस्वती विद्या मन्दिर, शिकोहाबाद
रामशरण विद्या निकेतन, शिकोहाबाद
डिवाइन इण्टरनेश्नल एकेडमी, शिकोहाबाद
इन्दिरा मैमोरियल पब्लिक स्कूल, शिकोहाबाद
ब्राइट स्कालर्स एकेडमी, सिरसागंज
भविष्य ज्योति पब्लिक स्कूल, सिरसागंज

महाविद्यालय

चै- रघुवर दयाल डिग्री कालेज, शिकोहाबाद
नारायण महाविद्यालय, शिकोहाबाद
आदर्श कृष्ण महाविद्यालय, शिकोहाबाद
कुँ.आर.सी. महाविद्यालय, मैनपुरी
बी.डी.एम. महाविद्यालय. शिकोहाबाद
सन्त जनूबाबा स्मारक महाविद्यालय, शिकोहाबाद
ओउम डिग्री कालेज, शिकोहाबाद
जे.एस. डिग्री कालेज, शिकोहाबाद
पालीवाल महाविद्यालय, शिकोहाबाद

जूनियर, इंटरमीडिएट और ग्रेजुएट वर्ग तक के लगभग 5000 छात्र-छात्राओं ने उत्साह के साथ अपने-अपने विद्यालय में आयोजित प्रतियोगिता में भाग लिया।

विद्यालय/महाविद्यालयों ने कार्यक्रम में पूर्ण सहयोग दिया, जिसके लिए शब्दम् आभारी है। प्रश्नमंच कार्यक्रम ‘शब्दम्’सलाहकार मंजर उलवासै एवं शब्दम् टीम के ऊर्जान्वित प्रयास के कारण उपरोक्त सफलता तक पहुंचा है।

प्रश्न का उत्तर देता छात्र।

उत्तर देने को उत्साहित छात्राएं।

पुरस्कार प्राप्त करती छात्रा।

विजयी छात्र-छात्राओं के साथ समूह छायांकन।

 

shabdam hindi prose poetry dance and art

next article